बिहार डीजल अनुदान योजना (पंजीकरण) 2021: ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म

बिहार डीजल अनुदान योजना का आरम्भ बिहार सरकार द्वारा राज्य के किसानें को कृषि से जुड़े कार्यों एवं सिचाईं में डीज़ल पर सब्सिडी दी जाएगी। बिहार डीजल योजना के तहत 40 रूपये प्रति लीटर के हिसाब से किसानो को डीजल प्राप्त करवाया जाया था, किन्तु अब इसमें 10 रूपये और बढ़ा कर यह राशि 50 रूपये प्रतिलीटर के हिसाब से किसानो को व साथ ही इस योजना के अंतर्गत बिहार राज्य के किसानों को डीज़ल पंप सेट लाभ प्राप्त कराया जायेगा। प्रति एकड़ के हिसाब से 400 रूपये चार बार सिंचाई हेतु अनुदान राशि मिलेगी। बिहार डीजल अनुदान योजना किसानों को आर्थिक सहायता व आय वृद्धि हेतु इस योजना का आरम्भ 2020 में किया गया था। व इस वर्ष Bihar Diesel Anudan Yojana में संसोधन कर कई बदलाव भी किये गए हैं।

बिहार डीजल अनुदान योजना

इस पोस्ट में क्या क्या है- देखें

बिहार डीजल अनुदान योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

बिहार डीजल अनुदान योजना के अंतर्गत राज्य के सभी किसानो को खरीफ की फसलों से जुड़े कार्यों में आर्थिक अनुदान प्रदान करवाया जायेगा। इस सब में फसलों में पंप सेट सिंचाई, व फूलों मक्का, तिलहन, दलहन, व मौसमी सब्जियों में तीन सिचाईं के लिए अनुदान प्राप्त होगा। व इसके साथ ही किसानों को बिजली से चलने वाले ट्यूबवेल में भी बिजली दर में कटौती की जायेगी। किसानो द्वारा पहले खेती के कामों इस्तेमाल की जाने वाली बिजली का पहले 96 पैसे प्रतियुनिट भुगतान करना पड़ता था लेकिन अब यह घटा कर 75 पैसे प्रतियुनिट कर दिया गया है। बिहार डीज़ल योजना के अंतर्गत यह दरें सरकारी और सभी के अपने निजी ट्यूबवेल दोनों के ही लिए तय की गई है अब कोई इससे अधिक पैसे नहीं ले सकता। इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा 200 करोड़ रूपये का बजट निर्धारित किया गया है।

यदि आप भी बिहार राज्य के निवासी किसान हैं तो आप इस लेख की सहायता से सरलता से अपना Bihar Diesel Anudan Yojana आवेदन स्वयं कर सकते है, बिहार डीज़ल अनुदान योजना का लाभ लेने हेतु आपको किस प्रकार से अपना पंजीकरण करवाना है।यह पूर्ण जानकारी आपको इस लेख में मिल जाएगी।

bihar-diesel-anudan-aavedan-registration-form

प्रधानमंत्री आवास योजना 2021 PMAY List कैसे चेक करें

bihar Diesel anudaan yojana 2021

योजना बिहार डीजल अनुदान योजना
शुरू की गईराज्य के मुख्यमंत्री द्वारा।
लाभार्थीराज्य के किसान।
उद्देश्यकिसानों को कृषि से जुड़े कार्यों में मदद देना।
आवेदन कर प्रकारऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटAgriculture Department (bihar.gov.in)
bihar-diesel-anudan-aavedan

बिहार डीजल अनुदान आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

बिहार डीज़ल अनुदान योजना में आवेदन हेतु आपको निम्न कुछ जरुरी दस्तावेज़ो की आवश्यकता भी होगी इसलिए आवेदन करने से पूर्व अपने जरुरी दस्तावेजों की फोटोकॉपी एक साथ रख ले जिसे की आपको अपना आवेदन करते समय किसी प्रकार की कोई समस्या न हो।

  • निवास प्रमाण पत्र।
  • वोटर आईडी कार्ड।
  • आधार कार्ड।
  • बैंक पास बुक।
  • मोबाइल नंबर। (रजिस्ट्रेशन हेतु)
  • खेती में इस्तेमाल होने वाली जमीन के कागजात।
  • पासपोर्ट साइज फोटो।
  • डीज़ल विक्रेता प्राप्त रसीद।

डीजल अनुदान योजना आवेदन के लिए पात्रता

बिहार डीज़ल अनुदान योजना में आवेदन के लिए सरकार द्वारा इसके कुछ खास मानदंड व पात्रता तय की गई है। इसलिए जो व्यक्ति इस पात्रता को पूर्ण कर रहें हैं, केवल वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

  1. बिहार डीज़ल अनुदान योजना के लिए केवल बिहार राज्य के स्थाई निवासी जो की पेशे से किसान हैं, वः व्यक्ति आवेदन कर सकते हैं।
  2. बिहार डीज़ल अनुदान योजना के अधीन प्रति एकड़ जमीन के हिसाब से 400 रूपये की छूट की जायेगी।यह अनुदान राशि योजना में धान की चार सिचाईं के लिए मिलेगा।
  3. बिहार डीज़ल योजना के अंतर्गत यदि किसान द्वारा पट्टे पर जमीन ली गई है, तो उसमें किसी प्रकार का अनुदान प्राप्त नहीं होगा।
  4. व आवेदन किसान के पास कम से कम एक एकड़ खेती की जमीन होनी जरुरी है।
  5. बिहार डीज़ल योजना में आवेदन के लिए आवेदक किसान का बैंक में खुद का अकाउंट खुला हुआ हो, व साथ ही वह अकाउंट उसके आधार कार्ड से लिंक भी किया गया हो।

बिहार डीज़ल अनुदान योजना के उद्देश्य/लाभ

बिहार डीज़ल योजना का उद्देश्य राज्य के किसानों को खेती कार्यों में आर्थिक सहायता देने का है। इस योजना के तहत किसानों को डीजल पंप सेट द्वारा सिचाईं की व्यवस्था प्रदान करवाई जाएगी।व इन योजना के तहत किसानो को बिजली में भी कटौती की जाएगी।यदि किसी कारणवश इलाके का ट्रांसफार्मर खराब हो जाता है तो वभाग द्वारा वह 48 घंटे के भीतर बदला जायेगा। इस योजना से राज्य के न किसानो को लाभ प्राप्त होगा।जिनकी आर्थिक स्थिति कमज़ोर होने के कारण वह प्रयुक्त मात्रा में उपयोग हेतु डीजल व बिजली का भुगतान नहीं कर पाते हैं। ऐसे में उन्हें फसलों की उपज में नुकसान उठाना पड़ता है और जिससे उनकी आय में भी असर होता है। इस सभी समस्याओं का समाधान निकालने हेतु राज्य सरकार दवरा इस योजना का आरम्भ किया गया है। लाभ लेने के लिए आप अपने स्मार्ट मोबाइल फ़ोन से अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

बिहार डीजल अनुदान से संबंधित जानकारी/विशेषता

  • बिहार डीजल अनुदान योजना के तहत सरकार द्वारा 200 करोड़ रूपये की अनुदान राशि निर्धारित की गई है।
  • आवेदक किसानो को अपना आवेदन पत्र भरते समय पिता से संबंधित जानकारी वही भरनी है,जो आवेदक किसान के आधार कार्ड में दी गई हो।
  • आवेदक किसान अपना बैंक खाता आधार कार्ड से अवश्य लिंक करवा ले।
  • इस योजना को वर्ष 2018-19 में हुई अल्पवृष्टि के कारण खरीफ की फसलों के नुकसान को ध्यान में रखते हुए किया गया है।
  • इस योजना में किसानों को सब्जियों, तिलहन, दालों, मक्का व औषधीय गुण वाले पौधों खरीफ की फसल में सिचाईं हेतु अनुदान दिया जायेगा।
  • किसान तीन वर्गों में इस योजना का लाभ ले सकते हैं। स्वयं, बटाईदार, स्वय+बटाईदार।
  • इन तीनो वर्गों में पर भी आपको खसरा नंबर,किसान थाना नंबर,टोटल सिंचित रकवा, व अपने आस पास के 2 और किसानो का नाम भी भरना होगा व आपको डीजल खरीद पर प्राप्त रसीद भी आवेदन पत्र के साथ ही लगानी होगी।

बिहार डीजल अनुदान योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

बिहार डीजल अनुदान योजना के लिए आप अब स्वयं अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। इसके लिए आप निम्न प्रक्रिया को फॉलो कर सकते हैं।

  • बिहार डीजल अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन हेतु सबसे पहले आप बिहार कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। यहाँ होम पेज आपके सामने खुल जायेगा। bihar-diesel-anudan-yojna
  • मुख्य पृष्ठ पर आपको ऑनलाइन आवेदन करें का विकल्प दिखाई देगा।
  • यहाँ आपको खरीफ डीजल अनुदान 2021 योजना के विकल्प पर जाना है।bihar-diesel-anudan-aavedan-registration
  • यहाँ क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल जाएगा।जिसमे की डीजल अनुदान का प्रकार, व पंजीकरण करें के सर्च ऑप्शन पर क्लिक कर लें। bihar-diesel-anudan-aavedan-panjikarn
  • यदि आप इस वेबसाइट पहले से ही पंजीकृत हैं, तो आप इस योजना के लिएसीधे पंजीकरण कर लें। और आपका पोर्टल पे परंजीकरण न हो तो पहले आपकी स्क्रीन पर दिशानिर्देशन की सूची आएगी। आप पहले अपना पंजीकरण करवा लें।
  • योजना के आवेदन को तीन श्रेणियों में बाँटा गया है। स्वयं,बटाईदार, स्वयं+बटाईदार।
  • आपको बटाईदार या स्वयं बटाईदार की श्रेणी में आवेदन करना है।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर आवेदंब फॉर्म खुल कर आ जायेगा।
  • यहाँ आपको/ आवेदक किसान का खता नंबर, खसरा नंबर, अपने पास के 2 किसानो का नाम, व डीजल की खरीद की रसीद व अन्य जानकारी भर लें व यह दस्तावेज अपलोड कर लें।
  • इस प्रकार आपका बिहार डीजल पंजीकरण पूर्ण हो जायेगा।

बिहार डीजल अनुदान आवेदन प्रिंट

  • सबसे पहले आप बिहार कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाये।
  • यहाँ आपको होमपेज पर आवेदन की स्थिति/आवेदन प्रिंट के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • यहाँ आपको सूची में डीजल अनुदान आवेदन प्रिंट करें के विकल्प पर जाना है।
  • विकल्प पर क्लिक करने के बाद नए पेज पर आपको फसल चक्र का चुनाव करना है, व पंजीकरण संख्या भरनी है। बा सर्च बटन पर क्लिक कर लें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर डीजल अनुदान आवेदन खुल कर आ जायेगा,अब आप इसको प्रिंट कर लें।

बिहार डीजल अनुदान योजना क्या है?

यह योजना राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई है, जिसके अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा किसानो को फसलों की सिचाई हेतु अनुदान प्राप्त करवाया जायेगा। ‘

क्या इस योजना के लिए किसी प्रकार की पात्रता निर्धारित की गई है ?

हाँ ! इस योजना के लिए केवल बिहार के किसान बंधु ही आवेदन कर सकते हैं। आप इस लेख को पढ़ कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

इस योजना के अंतर्गत कितना अनुदान मिलेगा ?

बिहार डीजल अनुदान योजना के तहत गेहूं की चार सिचाईं पर 400 रूपये की अनुदान राशि प्राप्त होगी

क्या यह अनुदान केवल खरीफ की फसलों पर ही प्राप्त होगा?

आप रबी व खरीफ़ दोनों ही फसलों में बिहार डीजल अनुदान हेतु आवेदन कर सकते हैं।

क्या इस योजन के लिए सभी किसान आवेदन कर सकते हैं ?

हाँ! इस योजना में राज्य के सभी किसान आवेदन कर सकते हैं। किन्तु वह सरकार द्वारा निर्धारित पात्रता व मानदंडों को पूर्ण करते हों।

क्या इस योजना से जुडी जानकारी प्राप्त करने के लिए कोई हेल्पलाइन नंबर है ?

जी यदि आपको इस योजना से जुडी किसी प्रकार की समस्या हो या किसी भी जानकारी को लेकर मन में शंका हो तो आप दिए गए टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकते हैं।
टोल फ्री: 0612-2233555

इस योजना की शुरूआत क्यों की गई है?

यह योजना किसानो की समस्या को ध्यान में रख कर शुरू की गई है। अल्पवृष्टि के कारण फसलें सुख कर खराब हो जाती हैं। और जो किसान आर्थिक रूप से कमज़ोर हैं वह इस योजना की सहायता से सिचाईं कर सकते हैं फसलों की जिससे किसानो की आय में भी सुधार होगा ?

Leave a Comment